Gharelu upchar | Home Remedies | Desi nuskhey

 Gharelu upchar या Home remedies एक बहुत ही प्राचीन विधी है, जब homopathy या डॉक्टर्स, medical science तब इतनी आगे नहीं थी , उस समय प्राचीन समय के लोग घर से बनी remedies अपनाते थे , इन घरेलू उपचारों के किसी भी तरह के साइड effects नहीं होते है। ये एक प्राचीन विद्या है जो आजकल लुप्त होती जा रही है। Home remedies से आप और आपका परिवार सुरक्षित रहता है , आपको इम्युनिटी सिस्टम में मजबूती होती है , आंखों की रौशनी, weight loss करने का तरीके, गोरे होने का ghareluupchar , यहां तक की कैंसर का घरेलू उपचार भी है। बीते कई वर्षो में कई सारे आयुर्वेद experts और कई जाने माने बिद्वानो ने इस पर रिसर्च की तो इसके कई सारे सकारात्मक परिडाम निकल के आये और ये scientifically भी proven हो चुका है। 

Home Remedies को हम देसी नुस्खे के नाम से भी जानते है , हलाकि ये सारे उपचार लुप्त होते जा रहे है लेकिन इनका एक मनुष्य के जीवन में काफी महत्व है। एक मनुष्य अगर इन सभी उपचारों का नियमित रूप से पालन करता है तो उसको कभी बिमारी होने की सम्भावना नहीं रहती। 

Home Remedies


Gharelu upchar, Home remedies, and Desi nuskhey

Gharelu Uphar के कई सारे फायदे है , बहुत से लोग इसको बड़ी गंभीरता से लेते है , इससे कई सारे रोगों का निवारण हो सकता है , प्राचीन समय में लोग इससे कई सारी बिमारियों का इलाज करते थे। और अभी भी कुछ पिड़यों के लोग इसको अपना रहे है और काफी स्वस्थ जीवन जी रहे है। कुछ निम्नलिखित फायदे नीचे दिए गए है। 

1. इसके कुछ तरीके अपनाने से ये आपको मात्र कुछ ही घंटो में शरीर के अंदर असर दिखना शुरू हो जाता है। 

2. आपको किसी भी तरह से किसी डॉक्टर्स की सलाह लेने की आवश्यकता नहीं होती है , और इससे आप chemical से बनी दवाओं के side  effects से भी बचे रहते है। 

3.आपको कहि भी जाने की आवश्यकता नहीं होती है , इस्सकी सामिग्री आपको किसी बाग़ - बगीचे में या आपकी रसोई के घर में मौजूदा वस्तुओं से बन जाती है , जैसे - हल्दी , लॉन्ग, पोधिना, तुलसी , नीम , टाटरी आदि ये सभी आपको काफी आसानी से उपलब्ध हो जाती है। 

4. इन Home remedies से हमें काफी ताकत और strength का अनुभव होता है। इससे शरीर के सूक्ष्म जीवी खत्म हो जाते है , और शरीर में उस से लड़ने का एक बातावरण उतपन्न करते है। 

5.घरेलू उपचार से एक बीमारी के साथ साथ दूसरी कई अन्य बीमारियां भी खत्म हो जाती है। 

6. ये आपको काफी आसानी से मिल जाते है , इन्हें आप खेत में या बाजार में सस्ते दर से खरीद सकते है। 

Some Home remedies and Desi Nuskhey Tips

1.सरदर्द में आपको अमीलोम बिलोम या बादाम का तेल और घी को नाक में डालने से सिरदर्द बंद हो जाता है, और अगर ज्यादा तकलीफ है तो मेधावटी का सेवन करें और सबसे अच्छा Gharelu upchar है की देसी घी से बनी जलेबी के साथ दूध पीने से सर का दर्द खत्म हो जाता है। 

2. हाथ पैरों में पीठि के लिए या urticaria के लिए 5 काली मिर्च, 5 चम्मच घी, 5 चम्मच खर मिला क्र के खाने से ये ठीक हो जाता है। 

3. अगर आपको मोटापे की दिक्क्त है तो कपालभाति करने के साथ साथ low कार्बोहायड्रेट की diet लें, मीठा कम क्र दें, Fat वाली चीज़ों से परहेज रखें। इस Home remedy उपचार से शरीर पतला हो जायेगा 

4. कभी कभी किसी मनुष्य को काफी गर्मी महसूस होती है , जिससे उसके शरीर में गर्मी रहती उसके लिए शीशम के पत्ते का रस बना कर पीने से शरीर में गर्मी ठीक हो जाती है , ये बहुत ही आसान घरेलू उपचार है। 

5. Arthritis में आपको एलोवेरा का जूस पीना है और उसके साथ 30 minute तक अमीलोम बिलोम करना है , इससे आपका arthritis के सभी प्रकार के दर्द खत्म हो जाते है। 

6. platelets के इलाज के लिए आप गिलोय का सेवन करें इससे platelets balance हो जाती है। 

7. कोलेस्ट्रॉल की समस्या के लिए gharelu upchar है कि 1 गिलास लौकी का जूस, 7 पत्ते तुलसी के, 7 पत्ते पुदीना के , 3 से 5 काली मिर्च दाल के पीने से heart की समस्या, हीमोग्लोबिन भी बढ़ता है और आपका cholestrol भी नियंत्रड में रहता है। 

8.बाल को जड़ने से रोकने के लिए आप एलोवेरा का जूस का सेवन करें और अपने नाखूनों को दूसरे हाथ के नाखुनो से रगड़ें, इससे आप के बाल काले रहते है और मजबूत भी रहते है। 

9. शरीर में पसीना आना और बदबू होने की home remedy के लिए आप शीशम के और बेल के 8 पत्तों का जूस बना कर पिएं। 

10. Filaria का दुनिया में कोई इलाज नहीं है लेकिन Gharelu upchar के लिए आप घर में कपालभाति करें इससे आपका फ़ाइलेरिया ठीक हो जायेगा। 

11. कुछ बच्चों के फेफड़े कमजोर होते है उनको तुरंत सर्दी , जुखाम हो जाता है उसके लिए आप उन्हें स्वसारी काढ़ा उनको दें। 


Comments