How to improve eye sight in hindi (Aankhon ki Roshni kaise Badhaye) | Ayurvedic Medicine For Improving Eyesight

आँखें शरीर का एक मुख्य अंग होती है। वही एक जरिया होता है। पूरी दुनियां देखने का, ऐसा माना जाता है, कि शरीर में आँखें सही न हो तो जीवन जीने का मतलब ही नहीं है। आज पूरी दुनिया में 45% से भी ज्यादा लोग आज आखों या आँखों के किसी न किसी सम्बंधित  रोग से पीड़ित है। और किसी कमजोरी की वजह से आँखों पर चस्मा लगा हुआ है। क्या आप को इन सब की वजह पता है,कि आँखों में रोग और कमजोरी कहाँ  से उत्पन होती है, इन सब की वजह है, शरीर में जरुरी पोषक तत्वों की कमीे, Electronic Devices का ज्यादा देर तक इस्तमाल करना। improving eye sight के लिए काफी साबधानी बरतनी होती है, पर कुछ natural तरीके से भी eye sights को सुधारा जाता है। 

इन सब बातों के अलावा आँखों की देखभाल में लापरवाही करना। हम सब रोजाना ही अपने चहरे, बाल, त्वचा और पूरे शरीर की बड़े ही ध्यान से देखभाल करते हैं। लेकिन किसी भी व्यक्ति को यह याद ही नहीं होगा कि उसने अपनी आँखों की देखभाल के बारे में आखरी बार eye care test कब किया था। दूर या पास का साफ - साफ नहीं दिखाई देना , reading लगाते समय आँखों में दर्द महसूस होना या पानी आना, आँखों में बाहरी पन रहना , रात के समय दिखाई नहीं देना या बिना चश्मे के कुछ भी पूरी तरह से साफ दिखाई नहीं देना, यह सब आँखों की कमजोरी  के लक्षण होते हैं। 

आँखों की कमजोरी के चलते अगर किसी को एक बार चश्मा आँखों पर लग जाता है, तो व्यक्ति यही सोचता है,की यह चश्मा उम्र भर लगाना पड़ेगा, या to improving eye sight  Operation या Laser Treatment करवाना पड़ेगा। लेकिन क्या आप को पता है। अपने Life Style और अपने खान - पान को change करके हम अपनी रोजाना की डाइट में कुछ naturally चीजों का प्रयोग करें। तो इससे हमारी आँखों की कमजोरी भी दूर होती है। और धीरे धीरे बिना चश्मे के भी पहले से भी ज्यादा साफ दिखाई देने लगता है। ऐसे कई लोग हैं।  जो आँखों कमजोरी के कारण पिछले 10-15 सालों से आँखों पर चश्मा या Contact Lens का Use किया करते थे। लेकिन बाद में इन Natural उपायों के चलते उन्होंने अपनी आँखें ठीक और पहले से ज्यादा स्वस्थ बना ली। जैसे - जैसे आप अपनी आँखों को Regular Basis पर अपनी आँखों के Improvement के लिए समय देने लगते हैं, वैसे -वैसे आँखों की मासपेशियां मजबूत और पहले से और भी बेहतर हो जाती हैं। और improve eyesight। तो हम aankhon ki roshni badhane ke liye gharelu upay और खाने की चीजों के बारे में बताएँगे। लेकिन उससे पहले हम आप को आँखों पर कुछ लगाने वाली चीजों के बारे में और कुछ सावधानी के बारे में बातएंगे।


How To improve Eye Sight | Aankhon ki Roshni kaise Badhaye

कई लोग आँखें में कमजोरी होने के कारण चश्मा लगा लेते हैं, और सोचते हैं, की यह उम्र भर लगाना पड़ेगा। लेकिन हम आप को कुछ ऐसी बताएंगे की जिनको रोजाना इस्तमाल करने के बाद आप अपनी आँखों को कुछ ही दिनों में फर्क देखने लगोगे । अपने खान पान के साथ साथ आँखों की नसों को आराम पहुंचाने और देखने की सकती को पहले से बेहतर करने के लिए आँखों पर कुछ विशेष चीजों के इस्तमाल से काफी असर पड़ता है। अगर आपको कुछ दिनों में ही अपनी आँखों को स्वस्थ और ठीक करना है तो आप कुछ ayurvedic medicine for improving eyesight  का उपयोग कर सकते है 

1.Anise and cucumber (.सौंफ और खीरा )

 सौंफ और खीरे का पेस्ट बना कर लगाने से आँखों पर काफी असर पड़ता है। सौंफ में केल्सियम ,सोडियम ,पोटेसियम ,आयरन जैसे और भी पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो हमारे आँखों के साथ साथ और भी फायदेमंद होते हैं। 
सौंफ का सबसे बड़ा फायदा हमारी आँखों को होता है। लेकिन सौंफ को रोजाना सुबह शाम खाने से हमारे शरीर को भी फायदा होता हैं। और खीरे में भी कई पोषक तत्व होते हैं। जो हमारे शरीर के पाचनक्रिया को ठीक बनाये रखता है। 
how to increase vision of eye : सौंफ और खीरे का पेस्ट बनाने के लिए सौंफ को थोड़े से पानी में 1 से 2 घंटे के बाद नरम हो जाने के बाद आधे खीरे में मिलकर मिक्सर में चला पेस्ट बना लें। इसका पेस्ट बना लेने के बाद अपनी आखों पर 30 से 40 मिनट तक लगा ले। अगर आपका दिन भर का काम पड़ने या कम्प्यूटर का काम है। तो इससे मिलने वाली ठंडक बढ़ाने के लिए बने हुए पेस्ट को 10 मिनट के लिए freeze में रख लें। ऐसा करने से इसकी ठंडक बढ़ जाती है, और आँखों पर लगाने पर काफी आराम  मिलता है। 
साथ में सौंफ के पानी से लेकर इसका पौधा और इसे खान भी काफी अच्छा माना जाता है। सौंफ और खीरे के पेस्ट को ज्यादा आराम पाने के लिए इस लगाने से पहले चहरेकी 10 से 15 मिनट तक अच्छी तरह से मसाज कर लें। मसाज के लिए बादाम और अरंडी का ले बहुत अच्छा होता है। दोनों में से किसी एक या फिर  दोनों की ओइल मिक्स करके मसाज की जा सकती है। 
आँखों के आस पास और आँखें बंद करके पलकों पर Circulation Motion में 10 से 15 तक  हलकी - हलकी उँगलियों से मसाज करें। मसाज करने से आँखों की नसों में blood Circulation तेजी से बढ़ने लगता है। और आँखों की रौशनी पहले से ज्यादा बेहतर बनती है। आँखों की मसाज करने के दौरान आँखों में तेल चला भी जाता है तो उससे आँखों को कोई नुसकान नहीं होता है। लेकिन आप को याद रहे की बादाम और अरंडी का  100% शुद्ध Extra Virgin और Cold Press हो, और पूरी तरह Chemical Free हो। साथ जिन लोगों को दूर या पास का ठीक तरह से नहीं दीखता हो या बार बार आँखों में दर्द होता रहता है। और जिनके दिमाग में ये question रहता हो कि how to improve vision of eyes, तो उन्हें मसाज, सौंफ और खीरे वाले नुस्के को हफ्ते में 2 या 3 बार रात में सोने से पहले जरूर इस्तमाल करना चाहिए। इसे करने से न ही आँखों की कमजोरी दूर होती है, साथ में आँखों की चमक भी बढ़ जाती है। और जिन लोगों की आँखों के निचे काले घेरे हो जाते हैं वो इसका उपाए का इस्तमाल कर सकते हैं।

2.Which Food Increase Eye Power | How to increase eye power naturally

आजकल के इस जीवनशैली में हम देखते है की सभी लोग अपने अपने कामो में लग्गे हुए है। जिसका माध्यम है फ़ोन ,लैपटॉप,कंप्यूटर,और भी अनेक चीज जो हमारे आँखों की रौशनी के लिए काफी ज्यादा हानिकारक है। अपनी सेहत को मजबूत बनाने और आँखों की रौशनी के लिए हमे अपना अच्छे से ख्याल रखना चाहिए ,जो की हमारे आने वाली जनरेशन के लिए फायदेमंद है ।, अपने कामो के साथ साथ हमे अपनी आँखों का भी ख्याल रखना चाहिए।  आँखों पर असर पड़ने का मुख्य कारन है। हमारा दिनभर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइज ,ज्यादा देर तक पड़ना, और अपने खान पान पर ध्यान न रखपन। ये सभी आँखों के कमजोर होने के कारन होते है। जिसके कारन लोगो की  आँखों पर चश्मा  लग जाता है । अगर हम अपने खान पान और लाइफ स्टाइल में थोड़ा बदलाव कर देते  है। तो हमारी आँखों पर काफी असर पड़ता है तो आँखों पर से चश्मा भी हटजाता है। और आंखे से पहले से भी ज्यादा साफ़ दिखने लग्गता है। aankhon ki roshni kaise badhaye इसके लिए हम आपको कुछ ऐसे  खाद्य पदार्थ बताएँगे जिनसे आँखों की रोशनी पर काफी positive असर पड़ता है। ।

Gooseberry

 इसमें पाई जाने वाली वो सारी चीज है वह काफी लाभदायक है।  हमारी आँखों की रोशनी के लिए आंवला का सेवन बहुत जरुरी है। हमको इसे अपने डाइट में शामिल कर लेने से हमारी आँखों के साथ साथ हमारे शरीर और पाचन क्रिया भी ठीक हो जाती है। पाचन क्रिया ठीक न होने से आँखों पर बहुत असर पड़ता है।  इसलिए आंवला हमारे आँखों की रोशनी के लिए फायदेमंद होते है। और आपको सुबह खाली पेट आंवले का रस पीना चाहिए या फिर  आंवले का मुरब्बा बनाकर खाना चाहिए

Cardamom

इलाइची का रोजाना सेवन किया जाता है। जैसे हम इसे चाय में , खीर में , या फिर आइस क्रीम में इसका सेवन होता रहता है। लेकिन इलाइची का इस प्रकार सेवन करने से आँखों को और हमारे सरीर को ठंडा तापमान मिलता है। ,और आप इलाइची को सौंफ में पीस कर  उसका पाउडर बनाना और इसके बाद इसे ठंडे  दूध में दाल कर पीलें , ऐसा करने से आँखों को काफी ठंडक मिलती है। और आँखों की रोशनी भी बढ़ती  है ,। इसका सेवन हम किसी भी मौसम में कर सकते है। ठंड हो या गर्मी ,क्युकी यह हमारे शरीर के तापमान को राहत देती है। नाकि नुक्सान।

Green Vegetable

आजकल के बचे हरी सब्जिओ को खाना पसंद न करके बहार के खाने को ज्यादा पसदं करते है जिसके कारन शरीर के साथ साथ आँखों पर भी कमजोर होने का फर्क पड़ता है। अगर रोजाना की डाइट में हरी सब्जिओ का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करा जाये तो वः हमारी आँखों की रोशनी के लिए लाभकारी होगी , और इसी वजह से कुछ लोग हरी सब्जिओ का सेवन ज्यादा करते है।, हरी सब्जिओ के साथ साथ ग्रीन टिया जिसे हिंदी में हरी चाय बोलते है जो की फिट रहने और आँखों की रोशनी के लिए बहुत अच्छी रहती है ।  

Walnut

वैसे तो हम अखरोट का सेवन ज्यादा नहीं करते क्युकी उसका हमारे घरो में या रसोई में ज्यादा प्रयोग नहीं होता लेकिन अखरोट में ओमेगा 3 फैटी एसिड्स पाए जाते है, और अख़रोट में विटामिन इ  जैसे अच्छे विटामिन भी पाए जाते है ।  अख़रोट में ये दोनों पोषक तत्व पाए जाने से अख़रोट को काफी हेल्दी मन गया है। इसलिए आँखों की देखभाल के लिए अखरोट को रोजाना की डाइट में शामिल करना चाहिए जिससे हमारी आँखों को कोई तकलीफ न हो , और स्वस्थ बने रहे।

Carrot Juice
गाजर का रोजन सब्जी या सलाद में प्रयोग किया जाता है जिससे शरीर को बहुत फायदा मिलता है यकीन अगर आप गाजर का जूस बना कर सेवन करने से शरीर के साथ - साथ आँखों पर भी काफी असर पड़ता है। एक गिलास गाजर के जूस का रोजाना सेवन करने से आँखों पर दिनों में आँखों पर फर्क दिखने लगता है जिससे आँखों पर लगा चश्मा हट जायेगा।

Almond

बादाम को हम मेवा के रूप में इस्तमाल करते हैं। बादाम काफी लाभदायक होता है। क्योंकि बादाम में ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है। और विटामिन इ और एंटी - ऑक्सीडेंट भी होते हैं। जो आँखों के साथ - साथ याददस्त और एकागगिरिता भी मजबुत होती है। आप को आँखों के लिए रात में 5 से 10 बिगहोने के लिए रखदें और सुबह उठकर बादाम को छील लें और छिलने के बाद उसे पीस लें। बादाम को पीसने के बाद उसे ठंढे दूध में दाल कर पीलें। ऐसा रोजाना सेवन करने से आँखों की रौशनी पर बहुत असर पड़ता है।  

Tomato 

 टमाटर एक ऐसी सब्जी है जोकि आँखों के लिए फायदेमंद होता है। अगर टमाटर को सलाद के साथ या कच्चा खाने से आँखों पर बहुत ज्यादा असर पड़ता है। टमाटर में लियूटेन ,लाइकोफोन जैसे पोषक तत्व होते हैं। लेकिन टमाटर में लाइकोफोन की मात्रा अधिक होती है। जिसका ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने से आँखों की रौशनी पर बहुत प्रभाव पड़ता है।

Garlic and Onion 

लहसुन और पियाज का उपयोग करने से ऊर्जावान बनी रहती है। और इसे खाने से आँखों की रोशनी पड़ता है।  क्योंकि शरीर के ऊर्जावान रहने से आँखें काफी स्वस्थ और बेहतर महसूस करती हैं। इन में एंटी - बायोटिक की मात्रा अधिक होती है। इसका प्रयोग गुलेटाथिओन को बनाने के लिए किया जाता है। क्योंकि इस में सल्फर की मात्रा होती है। सल्फर की अधिक मात्रा होने यह आँखों के लिए बहुत लाभकारी होता है। रोजन सुबह उठकर खाली पेट लहसुन की एक फांक लेने से शरीर में थकान महसूस नहीं होती है। और आँखें भी स्वस्थ बनी रहती है। साथ में यह शरीर के अन्य रोगों को भी मिटाता है।

Berry

Berries एक ऐसा पदार्थ है। जो गर्मियों के समय में आता है। जिसे पुरे India 80 प्रतिसत लोग इस खाना पसंद  करते हैं। अक्सर लोग जामुन को काले नमक या फिर चाट मसाला डाल खाना पसंद करते। और जामुन आँखों के लिए  काफी फायदेमंद माना गया है। इसके बारे में पुरे India में सिर्फ 20 जानते हैं। जिन्हें आँखों से सम्बंधित कोई भी परेशानी होती है। जैसे - आँखों में पानी आना , आँखों में भरी पन रहना , पलक बंद करते समय आँखों में दर्द होना। अगर कोई भी परेशानी होती है। ऐसी परेशानी में जामुन का अधिक सेवन करना चाहिए। जामुन में Vitamin c की भरपूर मात्रा पाई जाती है जिस के कारण आँखें स्वस्थ बनी रहती हैं। और यह साथ में मोतियाबिंदु जैसी जोखिम बीमारी को भी ठीक करता है।


Comments

Post a Comment